World Arts Day: 15 April 2021

विश्व कला दिवस : 15 अप्रैल 2021

उद्देश्य :
प्रत्येक वर्ष 15 अप्रैल को कलात्मक अभिव्यक्तियों की विविधता के बारे में जन जागरूकता के उद्देश्य से विश्व कला दिवस समारोह आयोजित किए जाते हैं जो कलाकारों के सतत विकास में योगदान को उजागर करने के साथ ही कलात्मक कृतियों व समाज के बीच संबंधों को सुदृढ़ करने में सहयोग करते हैं।

शुरुआत :
वर्ष 2019 में यूनेस्को द्वारा अपने आम सम्मेलन के 40 वें सत्र में महान कलाकार लियोनार्डो दा विंची के जन्मदिवस को विश्व कला दिवस के रूप में घोषित किया गया था। इस दिन की स्थापना इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ आर्ट द्वारा की गई थी जो कि अंतर्राष्ट्रीय कलाकारों के काम पर दुनिया भर का ध्यान आकर्षित करने हेतु रचनात्मक अभिव्यक्ति के तरीके को बढ़ावा देता है।

कला दुनिया भर के सभी लोगों के लिए रचनात्मकता, नवाचार और सांस्कृतिक विविधता का पोषण करती है और ज्ञान साझा करने व जिज्ञासा तथा संवाद को प्रोत्साहित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

यूनेस्को के अनुसार, विश्व कला दिवस स्कूलों में कला शिक्षा पर प्रकाश डालने का एक अवसर है जो कि समावेशी संस्कृति और न्यायसंगत शिक्षा का मार्ग प्रशस्त कर सकती है।

लिओनार्डो दा विंची :
(15 अप्रैल 1452 - 2 मई 1519)

महान चित्रकार, मूर्तिकार, वास्तुशिल्पी, संगीतज्ञ, कुशल यांत्रिक, इंजीनियर तथा वैज्ञानिक लिओनार्डो दा विंची का जन्म फ्लोरेंस प्रदेश, (इटली) के विंची नामक गाँव में हुआ था। इस गाँव का नाम ही इनके कुल के नाम के साथ जुड़ा हुआ था।

शरीर रचना विज्ञान (Anatomy) में विशेष रूचि रखने वाले विंची ने मिलान में रहते हुए अनेक सड़कों, भवनों, गिरिजाघरों व नहरों के डिजाईन तैयार किए थे। पेरिस आने पर तुर्की के साथ चल रहे युद्ध के दौरान उन्होंने युद्ध सम्बधी अविष्कार प्रस्तुत किए थे।

लिओनार्डो दा विंची की कई मशहूर कृतियों में से'The Last Supper'और 'मोनोलिसा' की पेंटिंग आज भी विश्व विख्यात है।

"यूनिवर्सल मैन" की उपाधि प्राप्त विंची ने फ़्रांस के क्लाउड शहर में 2 मई 1519 को अंतिम सांस ली।